शर्मनाक - शिक्षा के मंदिर में छात्राओं की पवित्रता जानने के लिए उतरवाए वस्त्र !


सुनहरा संसार 


गुजरात के भुज शहर में ट्रस्ट द्वारा संचालित शैक्षणिक संस्था में छात्राओं के मासिक धर्म (ऋतु चक्र) की जांच कराने के लिए कपड़े उतरवाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मामले को तूल पकड़ता देख आनन-फानन में कमेटी गठित कर जांंच बिठा दी गई है । इस मामले में गठित जांच समिति ने प्राथमिक रिपोर्ट जिला कलेक्टर को सौंप दी है। 


मीडिया रिपोर्ट के अनुसार भुज के एक शैक्षणिक संस्था का नियम है कि जो छात्रा ऋतु चक्र में रहती है वह सभी के साथ हॉस्टल बैठकर भोजन नहीं कर सकती। बताया जाता है कि इसी बात की पुष्टि करने के लिए  11 फरवरी को 60 युवतियों के कपड़े उतरवाकर जांच करने की शर्मनाक हरकत की गई। इससे क्षुब्ध छात्राओं ने अभिभावकों को बताया तब कहीं मामला सामने आया। वहीं जब मामला बिगड़ता दिखाई दिया तो इस संबंध में टीम गठित की गई जिसने रिपोर्ट कलेक्टर को सौंप दी है। कितने शर्म की बात है कि वैज्ञानिक युग में एक तरफ हम विश्व गुरु होने का दावा करते हैं, वहीं दूसरी ओर बेटों से आगे बढ़कर चांद पर झंडा लहराने वाली बेटियों के साथ इस  तरह  शर्मनाक और कुंठित मानसिकता वाले लोग, कैसी और क्या शिक्षा देंगे यह समझने की जरूरत है। 

Popular posts