सरपंच के सामने युवकों को बांधकर मुखिया के गुर्गो ने बेरहमी से पीटा, पुलिस ने उन्ही के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल में डाला  


सुनहरा संसार


                     कानून व्यवस्था  हुइ तार-तार

 

राकेश यादव

 

बछवाड़ा(बेगूसराय)

ग्राम प्रधान की बाईक में एक युवक की बाईक से ठोकर क्या लगी , मानों युवक नें जान की आफत मोल ले ली। हद तो तब हो गई जब उन युवकों को सरपंच की मौजूदगी में बेरहमी से पीटा गया और पुलिस के सामने घंटों बांधकर दंडित किया गया |

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार बेगूसराय जिले की अरवा पंचायत के अंतर्गत न्याय प्रतिनिधि सरपंच के उपस्थिति में ही महिला मुखिया नें दो युवकों को बांध कर बेरहमी से पिटवाना शुरू कर दिया । पीट-पीटकर अधमरा कर दिए जाने बाद मुखिया  ने अपने रसूख  के बल पर थाने से पुलिस को बुलाकर पूर्व रंजिश का हवाला देकर मुकदमा दर्ज करवा कर दोनों युवकों को जेल में डलवा दिया । उक्त घटना तब हुई जब अरबा पंचायत की मुखिया फूल कुमारी अपने पंचायत में बने आइसोलेशन वार्ड का भ्रमण कर वापस आ रही थी , तभी सामने से आ रहे ग्रामीण बउआ यादव की बाइक मुखिया की बाइक से टकरा गयी। बस फिर क्या था मुखिया नें  अपने गुर्गों का उपयोग कर बाइक सवार दोनों युवकों को रस्सी से बांध कर बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया।

 


 

आरोप है कि पीट-पीटकर अधमरा कर दिए जाने के बाद मुखिया नें पंचायत के सरपंच विनोद सिंह को बुलाकर बछवाड़ा पुलिस को सूचित कराया। उपरोक्त घटनाक्रम की सूचना पाकर एस आई अरूण कुमार सिन्हा दलबल  के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। मगर घटना स्थल पर पहुंची पुलिस भी रस्सी से बंधे युवकों को छुड़ाने  के बजाए मुखिया के साथ बैठक कर चाय पानी करते हुए मुखिया के भाषण को सुनते रहे। मुखिया के साथ घंटों गपशप के बाद दोनों युवकों को गिरफ्तार कर थाने लाया गया। गौरतलब है कि विगत तीन वर्ष पूर्व से ही उक्त युवक के साथ मुखिया का विवाद चला आ रहा है।

Popular posts