मादा परी ने बढ़ाया शेरों का कुनवा


सुनहरा संसार 


ग्वालियर। गांधी प्राणी उद्यान के लिए गुरुवार का दिन काफी उत्साहजनक रहा क्योंकि इस दिन यहां अफ्रीकन मादा बब्बर शेरनी ने तीन शावकों को जन्म दिया है। आखिरी बार वर्ष 1992 में यहां बब्बर शेरों का कुनबा बढ़ा था। मादा बब्बर शेरनी परी जो पहली बार मां बनी है उसने तीन शावकों को जन्म दिया है। चिड़ियाघर में वर्ष 2012 में नंदनवन जू रायपुर से नर बब्बर शेर जय को लाया गया था वहीं मादा परी को कानन पेण्डारी जू बिलासपुर से ग्वालियर चिड़ियाघर लाया गया था।


 जू प्रबंधन की मानें तो मादा परी तथा उसके तीनों शावक स्वस्थ हैं। कोरोना संक्रमण को देखते हुए जू प्रबंधन शावकों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखे है, आगामी तीस से चालीस दिन तक बच्चों को आईसोलेशन में रखा जाएगा, क्योंकि नवजातों में संक्रमण की संभावना ज्यादा रहती है। वहीं पहली बार मां बनी परी भी अपने शावकों को लेकर थोड़ी एग्रेसिव है प्रबंधन इस बात का भी ध्यान रख रहा है । 


Popular posts