मप्र - ग्वालियर सेंट्रल जेल, कैदी ने लगाई फांसी, प्रहरी निलंबित

सांकेतिक


सुनहरा संसार -


ग्वालियर । कुछ समय पहले ही पॉक्सो एक्ट में सेंट्रल जेल में बंद हुए कैदी ने रविवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मर्ग कायम कर बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया है । 

प्रात जानकारी के अनुसार करैया निवासी नरोत्तम रावत  रविवार शाम को मौका पाकर फांसी पर झूल गया। बताया जा रहा है कि मृतक जेल की बैरक नंबर 9 के पीछे टॉयलेट के बहाने गया था, वहां उसने गमछे  से फांसी का फंदा बनाया और फांसी पर झूल गया, मृतक कुछ समय पहले ही जेल में आया था। घटना की सूचना जैसे ही जेल प्रबंधन को मिली, उसके बाद थाने को सूचित किया गया। जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर पंचनामा बना कर बॉडी को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया, वहीं जेल प्रशासन ने घटना को लेकर जांंच शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक इस घटना के बाद दो प्रहरी तथा एक मुख्य प्रहरी को निलंबित भी कर दिया गया है। परंतु सबसे बड़ा सवाल यह है कि कैदी ने लगभग 7 बजे के आसपास खुले में फांसी लगा कैसे ली, क्योंकि लॉकअप का समय भी यही होता है और यदि इसके बाद फांंसी लगाई तो बैरक के बाहर कैसे आया। 

Popular posts