एक ही छत के नीचे समस्याओं का समाधान, जनता ने की मंत्री की तारीफ


सुनहरा संसार 


ग्वालियर । क्षेत्रीय विधायक एवं खाद्य आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बुधवार को जन समस्याओं के तुरंत निवारण के लिए शिविर लगाया और जनता की समस्याएं सुन कर समाधान कराया । इस शिविर में सबसे बड़ी बात सामने आई कि नगर निगम द्वारा बनाए जाने वाले काम कजी और मजदूरी कार्ड के लिए कर्मचारियों द्वारा पैसे मांगे जाते हैं, इस पर मंत्री ने संबंधित अधिकारियों को बुलाकर फटकार लगाई।



शिविर को संबोधित करते हुए मंत्री श्री तोमर ने कहा है कि गरीबों का हक दिलाना सरकार की पहली प्राथमिकता हैं। मानव सेवा से बड़ा दूसरा कोई कार्य नहीं है। सरकार सर्वहारा वर्ग के उत्थान के लिए प्रतिबद्घ हैं। जनता ने हम पर विस्वास जताकर जो जिम्मेदारी सौंपी है ये उसपर खरा उतरने का है। श्री तोमर ने कहा कि जरूरतमंदों को न्याय दिलाना उनकी प्राथमिकता है। इसीलिए इस तरह के शिविर लगाए जा रहे हैं। शिविर में सभी विभागों के स्टॉल लगाकर लोगों की समस्याओं का निदान किया गया। 

शिविर में ऐसी बुजुर्ग महिलाएं भी पहुंची जिन्होंने बैंक में अंगूठा न लगने से पेंशन नहीं मिलने की परेशानी बताई।

मंत्री श्री तोमर ने बैंक के नोडल अधिकारी को शिविर में बुलाकर मौके पर ही समस्या का निराकरण कराया और अपने हाथों उन्हें पेंशन दी। शिविर में वृद्घ व विधवा पेंशन के 55, कामकाजी महिला के 42 एवं मजदूरी के 30 आवेदन आए। निगम के जनकल्याण अधिकारी ने सत्यापन के बाद मंत्री श्री तोमर के द्वारा शिविर में ही हितग्राहियों को प्रमाण पत्र दिलवाए। वहीं मंत्री श्री तोमर ने जरूरतमंद हितग्राहियों को 10-10 हजार रुपए की नगद आर्थिक सहायता भी प्रदान की। इसमें अल्लारखी, रीतेश माहेश्वरी, विष्णु कुमार जैन, एहसान खान, अरमान खां व प्रीति कुशवाह शामिल हैं । सबसे अहम बात यह रही कि मंत्री तोमर का जन समस्या निवारण शिविर ग्वालियर विधानसभा के जोन क्रमांक 4  तानसेन नगर में 10 बजे से 5 बजे तक शिविर आयोजित किया गया था, लेकिन जनता की समस्याओं के निराकरण के चलते रात के 11बजे तक काम किया गया। शिविर में  मौजूद जनता ने तोमर द्वारा तुरंत समाधान के लिए भरपूर प्रशंसा की तो बुजुर्ग महिलाओं ने माथा चूमकर आशीर्वाद दिया । इस कार्यक्रम में पूरे समय मंत्री श्री तोमर तथा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के अलावा अपर कलेक्टर अनूप सिंह, अपर आयुक्त नरोत्तम भार्गव, एसडीएम प्रदीप तोमर, अतिवल सिंह एवं पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद रहा। 

 


Popular posts