स्मार्ट सिटी के लिए बैहतर फीडबैक बना सकते हैं शहर को और बैहतर


सुनहरा संसार 


ग्वालियर। ईज आॅफ लिविंग इंडेक्स अर्थात जीवन जीने की सुगमता इसमें ग्वालियर शहर किस पायदान पर है, इसका सर्वे कराया जायेगा। इसमें क्वालिटी आॅफ लाइफ, इकोनोमिक्स एबिलिटी एवं सस्टेनेबिलिटी पर शहरवासी अपना फीडबैक देगें। इसे लगभग 14 कैटेगरी में विभाजित किया गया है। यह जानकारी स्मार्ट सिटी काॅरपोरेशन ग्वालियर के सीईओ महीप तेजस्वी ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए दी। 
सीईओ श्री तेजस्वी ने बताया कि भारत सरकार के मिनिस्ट्री आॅफ हाउसिंग एण्ड अर्बन अफेयर द्वारा संचालित पोर्टल के माध्यम से शहरों की नगर पालिकाओं व जीवन की सुगमता का सूचकांक तैयार किया जा रहा है। इसमें तीन स्तम्भ में क्वालिटी आॅफ लाइफ में एजूकेशन हेल्थ, हाउसिंग और शेल्टर, वाश एवं सालिड वेस्ट मैनेजमेंट मोबिलिटी एवं सेफटी एवं सिक्योरिटी को लेकर शहर कितना सुविधा संपन्न है, यह जानकारी हासिल की जायेगी। इसी तरह इकोनोमिक एबिलिटी में लेवल आॅफ इकोनोमिक डबलपमेंट, इकोनोमिक अपोरचुनिटीस  एवं गिनी कोएफ्फिशिएंट शहर की सक्षमता कैसी है। इस बात की जानकारी जुटाएगें। 
श्री तेजस्वी ने बताया कि शहर में पर्यावरण की स्थिति और अनुकूल वातावरण की जानकारी हासिल करने के लिए सस्टेनेबिलिटी में एनवायरमेंट, ग्रीन स्पेसेज एण्ड बिलिडंग्स, एनर्जी कन्सपशन एवं सिटी रेजीलिएंस का सर्वे होगा। श्री तेजस्वी ने बताया कि ईज आॅफ लिविंग इंडेक्स को प्रतिशत आधार पर चार श्रेणियों में रखा है। इसमें 30 प्रतिशत सिटीजन पर्सेप्शन(नागरिक अनुभूति), 35 प्रतिशत क्वालिटी आॅफ लाइफ, 15 प्रतिशत इकोनोमिक एक्टिविटी एवं 20 प्रतिशत सस्टेनेबिलिटी के लिए है। 
सीईओ श्री तेजस्वी ने बताया कि इसमें नागरिक अपना फीडबैक भी दे सकते हैं। इसके लिए क्यू.आर. कोड को स्कैन कर अथवा www.EOL.org/citizenfeedback  लिंक पर जाकर अंकित कर सकते हैं। 
श्री तेजस्वी ने बताया कि नगर पालिका प्रदर्शन सूचकांक नगर पालिकाओं के क्षेत्रीय प्रदर्शन की जांच करता है। इसमें जो पांच वर्टिकल हैं उनमें सर्विसेज, फाइनेंस, टेक्नोलोजी, प्लानिंग एवं गवरनर्स शामिल है।


Popular posts